बच्चों के लिए लकड़ी का लैपटॉप लॉन्च, 15 साल चलेगा; बॉडी भी बदली जा सकेगी

  • इसे वावालैपटॉप नाम दिया गया है, जिसे सोलर एनर्जी और बिजली दोनों तरह से चार्ज किया जा सकेगा
  • एक डिजाइन से बोर होने पर बॉडी बदल सकेंगे, एक डिजाइन लगातार 15 साल तक साथ देगी

पेरू की वावालैपटॉप टेक्नोलॉजी कंपनी ने नई और सस्ती तकनीक से बना लकड़ी का लैपटॉप लॉन्च किया है। यह काफी सस्ता है और आसानी से रिपेयर किया जा सकेगा। इसे वावालैपटॉप नाम दिया गया है। कंपनी का दावा है कि इसे 15 से 20 साल तक इस्तेमाल किया जा सकेगा। वावालौपटॉप पेरू के दूरदराज इलाकों में रहने वाले लोगों और बच्चों के लिए तैयार किया गया है।यह वजन में भी काफी हल्का है।

2015 में हुई थी घोषणा

2015 में इसका सिर्फ प्रोटोटाइप पेश किया गया था लेकिन 2019 में 2.0 वर्जन के साथ इसे लकड़ी के साथ बनाया गया। मुफ्त लाइनेक्स ऑपरेटिंग सिस्टम से संचालित होने वाले इस वावालैपटॉप को हाल ही में बाजार में उतारा गया।
यह पेरू के उन लोगों के लिए तैयार किया गया है, जो शहरों से दूर रहते हैं इसलिए इसकी कीमत काफी कम रखी गई है। इसकी कीमत 17 हजार रुपए रखी गई है। हालांकि, भारत में इसे बेचा जाएगा या नहीं, इस बात की जानकारी कंपनी ने नहीं दी।

  • कम्प्यूटर और मार्केटिंग एक्सपर्ट्स ने मिलकर एसबीसी (एकल बोर्ड कम्प्यूटर) बनाया और इसे लकड़ी के केस में फिट किया है। इसकी मरम्मत भी आसानी से की जा सकेगी और अगर कोई इसकी बॉडी में कोई बदलाव करना चाहे तो वो भी आसानी से संभव है।
  • कम्प्यूटर इंजीनियर और वावालैपटॉप टेक्नोलॉजी के मैनेजर जेवियर क्रास्को के मुताबिक, ‘‘हमें ये महसूस हुआ कि लोगों को कुछ नया देने की बजाए उन्हें पुराना लौटाया जाए। इसलिए एकल बोर्ड कम्प्यूटर का इस्तेमाल कर पहला लैपटॉप बनाया।’’
  • क्रास्को ने बताया कि ‘हमने खासतौर पर बच्चों को ध्यान में रखकर इसे डिजाइन किया है। तीसरी और चौथी क्लास के बच्चे हर वक्त अपने साथ रख सकते हैं और जब ये बच्चे बड़ी क्लास में जाएं तो इसे 3.0 और 4.0 वर्जन के साथ अपग्रेड कर सकते हैं। लकड़ी से बने होने कारण यह प्रकृति और मानव इंद्रियों को काफी कम नुकसान पहुंचाएगा। क्रास्को फिलहाल इसे पेरू से बाहर लॉन्च करने पर विचार नहीं कर रहे हैं।

सोलर एनर्जी से होगा चार्ज

इसे सोलर और रेग्युलर (बिजली) दोनों ही तरीकों से चार्ज किया जा सकेगा। इसकी बॉडी को जब चाहे बदला जा सकेगा यानी आप जब एक डिजाइन से बोर हो जाएं तो बड़ी आसानी से इसकी बॉडी बदल सकते हैं और ये लगातार 15 सालों तक साथ दे सकता है।

Next Post

अलका लांबा को विधानसभा अध्यक्ष ने भेजा नोटिस, सदस्यता मुश्किल में

Thu Sep 12 , 2019
कांग्रेस में शामिल हुईं अलका लांबा की विधायकी पर संकट चांदनी चौक से विधायक अलका लांबा की सदस्यता खतरे में पड़ गई विधानसभा अध्यक्ष राम निवास गोयल ने अलका लांबा को नोटिस भेजा नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी से इस्तीफा देकर कांग्रेस में शामिल हुईं अलका लांबा की विधायकी पर संकट आ गया है। चांदनी चौक से विधायक अलका लांबा की सदस्यता खतरे में पड़ गई है। दिल्ली विधानसभा अध्यक्ष राम निवास गोयल ने अलका लांबा को नोटिस भेजकर 18 सितंबर दोपहर 3 बजे तक जवाब तलब किया है। आपको बता दें कि आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सौरभ […]
error

Jagruk Janta