Warning: sprintf(): Too few arguments in /home/jagrukjanta/public_html/wp-content/themes/default-mag/assets/libraries/breadcrumb-trail/inc/breadcrumbs.php on line 254

स्वाद और श्रेष्ठ गुणवत्ता के दम पर श्याम मसाले ने कायम की अनूठी पहचान

जयपुर @ जागरूक जनता। श्यामधणी इंडस्ट्रीज अपनी 25वीं वर्षगांठ के उपलक्ष में रजत जयंती समारोह मना रहा है। श्याम धणी इंडस्ट्रीज के संस्थापक गिरधारीलाल अग्रवाल के बेटे रामावतार अग्रवाल ने बताया कि स्वाद, सुगंध और श्रेष्ठ गुणवत्ता के दम पर आज श्याम मसाले ने घर-घर में अपनी अनूठी पहचान कायम की है। पिछले इक्कीस सालों से श्याम मसाला गृहणियों की पहली पसंद बना हुआ है। इस मसाला कंपनी की खास बात यह है कि गुणवत्ता के मामले में यहां कोई समझौता नहीं किया जाता। यही कारण है कि आज घर-घर में श्याम मसाले की सुगंध पहुंच गई है। इसकी शुद्धता और विश्वसनीयता के चलते लोगों के दिलों में श्याम मसाले के लिए खास जगह बनी है।

कंपनी ने अल्प समय में ही जमाई धाक

श्याम मसाले की लोकप्रियता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इसने महज 21 सालों में कई कंपनियों को पीछे छोड़ दिया और हर किचन में अपनी मौजूदगी दर्ज कराई। इसका श्रेय जाता है श्याम धणी इंडस्ट्रीज के संस्थापक गिरधारीलाल अग्रवाल के बेटे रामावतार अग्रवाल को। जिन्होंने कार्यभार संभालने के साथ ही कंपनी को टॉप लिस्ट कंपनियों में शामिल करने में सफलता हांसिल की है।

वर्ष 1995 में हुई थी श्याम मसाला कंपनी की स्थापना

आज हर गृहणी की पहली पसंद बने श्याम मसाले बनाने वाली श्याम धणी इंडस्ट्रीज की स्थापना 1995 में गिरधारीलाल अग्रवाल ने की थी। विश्वकर्मा इंडस्ट्रियल एरिया में स्थापना के साथ ही श्याम मसालों की बिक्री प्रदेश के विभिन्न शहरों और गांवों में होने लगी। श्रेष्ठ गुणवत्ता और स्वाद के चलते दिनोंदिन श्याम मसाले की मांग बढऩे लगी। जिसके बाद से ही श्याम मसाले प्रदेश के बाजार में अपनी अलग पहचान बनाने में सफल होने लगे। इसमें और तेजी तब आई, जब गिरधारी लाल अग्रवाल के बेटे रामावतार अग्रवाल ने कंपनी का कार्यभार संभाला। रामावतार अग्रवाल की दूरदर्षिता का ही परिणाम है कि उन्होंने सबसे पहले किचन मसालों के तत्कालीन बाजार का अध्ययन किया और बाजार की जरूरतें जानीं। उन्होंने जाना कि आज के युग में उपभोक्ता पारंपरिक तरीके के साथ शुद्धता और बहुत कुछ चाहता है।

कंपनी ने बदलते वक्त के साथ समझी लोगों की जरूरत

रामावतार अग्रवाल ने बदलने वक्त में लोगों की जरूरतों को समझा और उपभोक्ता की मांग के अनुसार अपनी कंपनी के कार्य का विस्तार किया। रामावतार अग्रवाल की दूरदर्शी सोच का ही परिणाम रहा कि श्याम मसाले ने ना केवल स्थानीय मसाला बाजार में अपनी एक खास पहचान कायम की बल्कि देश विदेश में भी लोगों के दिलों में जगह बनाई। आज कंपनी की लोकप्रियता का आलम यह है कि बाजार में श्याम किचन मसालों की क्वालिटी और शुद्धता का कोई मुकाबला नहीं है।

प्रथम एकमार्ग मसाला कंपनी का गौरव प्राप्त किया

श्याम किचन मसालों की शुद्धता और उच्च गुणवत्ता के कारण ही इन्हें राजस्थान के प्रथम एगमार्क मसाला कंपनी होने का गौरव प्राप्त हुआ। देखते ही देखते रामावतार अग्रवाल की मेहनत रंग भी लाने लगी और आज श्याम किचन मसाले उत्तर प्रदेश, हिमाचल, पंजाब और गुजरात सहित देश के विभिन्न राज्यों में अपने धाक जमा चुका है। देश ही नहीं विदेशों में भी श्याम किचन मसालों की काफी मांग है। आज ओमान, केन्या, नेपाल, नाइजीरिया और अन्य कई देशों में श्याम किचन मसालों के भारी मांग है। श्याम मसालों की बढ़ती मांग का ही नतीजा है कि आज देश के बड़े होलसेल और रिटेल मार्केट मेट्रो, रिलायंस मार्केट, रिलायन्स फ्रेश और बिग बास्केट सहित अन्य बाजारों में भी श्याम किचन मसालों के सभी उत्पाद मौजूद हैं।

Next Post

प्रियंका गांधी का भाजपा पर तंज, कहा- महाराष्ट्र महामारी से जूझ रहा है और एक पार्टी वहां की सरकार गिराने में जुटी

Thu May 28 , 2020
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने गरीबों के खाते में दस हजार रुपए डालने की मांग की उन्होंने कहा- यूपी में मजदूरों और प्रवासियों के लिए 12 हजार बसें कागजों पर चल रहीं, सड़कों पर उतारा नहीं गया लखनऊ. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने गुरुवार को वीडियो जारी किया। इसमें भाजपा सरकार पर तीखा हमला किया है। प्रियंका ने कहा- ‘ये वो दौर है जब सभी राजनीतिक पार्टियों और राजनेताओं को आपसी मतभेद भुलाकर आगे आना चाहिए और मिलकर काम करना चाहिए। यूपी में आपने (भाजपा) हमारी एक हजार बसों को नकार दिया। कोई बात नहीं। मैंने कहा था कि आप […]

Breaking News