कंगना टूटे ऑफिस से ही काम करेंगी:एक्ट्रेस ने कहा- मेरे पास दोबारा ऑफिस बनवाने के पैसे नहीं, एक महिला के आवाज उठाने की वजह से इसे तबाह कर दिया

Advertisements

9 सितंबर को बीएमसी ने दो घंटे तक कार्रवाई कर कंगना के ऑफिस में तोड़फोड़ की
कंगना ने अपने ट्वीट में लिखा- जनवरी के बाद से उन्होंने कोई काम नहीं किया है

Advertisements
Advertisements
Advertisements

मुंबई। ऑफिस तोड़े जाने के बाद से कंगना रनोट लगातार महाराष्ट्र सरकार पर तीखी बयानबाजी कर रही हैं। 33 साल की एक्ट्रेस ने ट्वीट किया, ‘‘मैंने 15 जनवरी को ऑफिस की ओपनिंग की थी। इसके तुरंत बाद कोरोना महामारी फैल गई। ज्यादातर लोगों की तरह तब से मैंने भी कोई काम नहीं किया। मेरे पास इसे फिर से बनवाने के पैसे नहीं हैं। मैं इसी खंडहर से काम करूंगी। इसे एक महिला के ऐसे ऑफिस के रूप में रखूंगी, जिसे उसकी आवाज उठाने की वजह से तबाह कर दिया गया।’’

मुंबई पहुंचने के बाद मां का फोन नहीं उठाया

कंगना ने एक अन्य ट्वीट में यह दावा किया कि उन्होंने मुंबई पहुंचने के बाद मां का फोन नहीं उठाया, क्योंकि उन्हें बार-बार उनकी चेतावनी याद आ रही थी। उन्होंने लिखा, ‘‘जब उन्होंने मेरा ऑफिस तोड़ा तो मेरी आंखों के सामने मां का चेतावनी भरा चेहरा आ गया, जैसे वे कह रही हों, ‘कहा था मैंने।’ तब से मैंने उनका कॉल रिसीव नहीं किया है।’’

मां ने कहा- बेटी पर गर्व है

इस ट्वीट के साथ कंगना ने एक वीडियो साझा किया है, जिसमें उनकी मां आशा रनोट उन पर गर्व जता रही हैं। इसमें वे कह रही हैं कि उन्हें अपनी बेटी पर गर्व है, जो सच्चाई के लिए लड़ रही है। आशा ने यह भी कहा कि वे बेटी को सुरक्षा देने के लिए गृहमंत्री अमित शाह का शुक्रिया अदा करती हैं। साथ ही हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की आभारी हैं, जिन्होंने यह जानते हुए भी उनकी बेटी को सुरक्षा दी कि उनका परिवार लंबे समय तक कांग्रेस में रहा है।

बुधवार को ऑफिस देखने पहुंची थीं कंगना

बुधवार को कंगना अपना टूटा हुआ ऑफिस देखने पहुंची थीं। वे वहां 10 मिनट तक रुकीं। कभी भावुक दिखीं और कभी गुस्से में, लेकिन इस विजिट के दौरान उन्होंने सुरक्षा का ध्यान नहीं रखा। कंगना ने दफ्तर पहुंचते वक्त मास्क नहीं लगा रखा था। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन भी नहीं किया गया।

कंगना को 2 करोड़ रुपए का नुकसान
9 सितंबर को करीब दो घंटे कंगना रनोट के ऑफिस में बीएमसी ने तोड़फोड़ की थी। बताया जा रहा है कि इस कार्रवाई में कंगना को करीब 2 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। कंगना ने इस तीन मंजिला ऑफिस को बनवाने करीब 48 करोड़ रुपए खर्च किए थे।

दावा किया जा रहा है कि बीएमसी ने कंगना के ऑफिस पर तोड़फोड़ की कार्रवाई शिवसेना के इशारे पर की है। दरअसल, कंगना पिछले कुछ दिनों से लगातार शिवसेना और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर हमलावर हैं। बीएमसी की कार्रवाई के बाद भी उन्होंने उद्धव ठाकरे का नाम लेकर उन्हें धमकी भरे अंदाज में कहा था- “आज मेरा घर टूटा है, कल तेरा घमंड टूटेगा।”

Advertisements
Advertisements
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

94 के बाद अभी आये 33 पॉजिटिव इन क्षेत्रों से, पढ़े पूरी खबर

Fri Sep 11 , 2020
बीकानेर@जागरूक जनता । बीकानेर में कोरोना के मीटर में रोजाना इजाफा हो रहा है । दिन में आये 94 पॉजिटिव के बाद अभी आई तीसरी लिस्ट में फिर 33 पॉजिटिव और सामने आए है । इसके साथ ही आज का आंकड़ा 127 हो गया है । 33 पॉजिटिव की लिस्ट

Other Stories

Jagruk Breaking