Advertisements

नयी दिल्ली. फ्रांस की रक्षा मंत्री फ्लोरेंस पार्ले ने कहा है कि उनका देश संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में स्थायी सदस्यता की भारत की दावेदारी का समर्थन करता है।
पार्ले ने फ्रांस से खरीदे गये 36 रफाल लड़ाकू विमानों में से पहली खेप के पांच विमानों को वायु सेना में विधिवत तौर पर शामिल किये जाने के लिए गुरुवार को आयोजित समारोह में हिस्सा लेने के दौरान कहा, “ फ्रांस संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में स्थायी सदस्यता की भारत की दावेदारी का समर्थन करता है।”
पार्ले ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मेक इन इंडिया कार्यक्रम के प्रति फ्रांस के समर्थन और उसमें शामिल होने की प्रतिबद्धता को दोहराते हुए कहा, “ पनडुब्बियों समेत अन्य रक्षा उपकरणों के निर्माण के दृष्टिकोण से मेक इन इंडिया कार्यक्रम फ्रांस की रक्षा कंपनियों के लिए काफी महत्वपूर्ण है। फ्रांस की कई कंपनियां अब भारत में अपने कार्यालय बनाकर रक्षा उपकरणों के डिजाइन यहां तैयार कर रही हैं। मुझे आशा है कि उन कंपनियों को यहां पूरा सहयोग और समर्थन मिलेगा।”
फ्रांसीसी रक्षा मंत्री ने कहा , “ आज का दिन हमारे देशों के लिए एक उपलब्धि है। हम मिलकर भारत- फ्रांस रक्षा संबंधों का एक नया अध्याय लिख रहे हैं। रफाल एक शक्तिशाली विमान है जो वायु सेना को नयी ताकत देगा। रफाल का उपयोग माली में आतंकवादी ठिकानों को नष्ट करने में भी किया गया था।”
उन्होंने आश्वासन दिया कि फ्रांस जल्द ही भारत को समझौते के तहत शेष 31 रफाल लड़ाकू विमान सौंपेगा।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements