ड्रग्स केस: एनसीबी की पूछताछ में दीपिका ने ड्रग्स चैट की बात कबूली, सारा और श्रद्धा ने ड्रग्स लेने से इनकार किया; तीनों से 5 से 6 घंटे सवाल किए गए

Advertisements
Advertisements
  • नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने एक्ट्रेस श्रद्धा कपूर से 6 घंटे और सारा अली खान से पांच घंटे तक पूछताछ की
  • दीपिका को बताया- पूछताछ 3 फेज में होगी, 3 से 4 राउंड हो सकते हैं, उनके 2 मोबाइल का डेटा बैकअप भी लिया गया

मुंबई। सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच के सिलसिले में सामने आए बॉलीवुड के ड्रग्स कनेक्शन में आज बॉलीवुड की सबसे बड़ी पेशी हुई। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने दीपिका पादुकोण से साढ़े पांच घंटे, श्रद्धा कपूर से 6 घंटे और सारा अली खान से पांच घंटे पूछताछ की। सूत्रों के मुताबिक, सारा और श्रद्धा ने ड्रग्स के सेवन करने से इनकार किया।

Advertisements

एनसीबी ने कोलाबा स्थित गेस्ट हाउस में दीपिका और उनकी मैनेजर करिश्मा प्रकाश से सवाल किए गए। सूत्रों के मुताबिक, इस दौरान दोनों ने ड्रग्स चैट की बात कबूल की है। उधर, श्रद्धा कपूर और सारा अली खान से एनसीबी के बैलार्ड एस्टेट स्थित ऑफिस में पूछताछ की गई।

सूत्रों के मुताबिक, दीपिका के पहुंचने पर एनसीबी ने सबसे पहले उन्हें आरोपों के बारे में बताया। डेटा बैकअप लेने के लिए दीपिका के 2 मोबाइल फोन ले लिए गए। उनसे कहा गया कि इस मामले में किसी संदिग्ध या आरोपी से बात नहीं करेंगी। उसके बाद एक अंडरटेकिंग पर साइन करवाए गए। उनसे कहा गया कि 3 फेज में पूछताछ की जाएगी, इसके लिए 3-4 राउंड हो सकते हैं।

एनसीबी ने कहा- ड्रग्स केस में अब तक 18 लोग गिरफ्तार
एनसीबी के साउथ-वेस्टर्न रीजन के डिप्टी डीजी मुथा अशोक जैन ने कहा कि शनिवार को करिश्मा प्रकाश, सारा अली खान, दीपिका पादुकोण और श्रद्धा कपूर के स्टेटमेंट दर्ज किए गए। क्षितिज प्रसाद को अरेस्ट किया गया। आज किसी कोई समन इश्यू नहीं किया गया। हमने अब तक 18 लोगों को गिरफ्तार किया है।

ये तीनों एक्ट्रेस कब एनसीबी के ऑफिस पहुंचीं
दीपिका पादुकोण: सुबह 9.50 बजे एनसीबी गेस्टहाउस पहुंचीं, पहले अकेले में पूछताछ हुई। फिर उनकी मैनेजर करिश्मा के सामने बैठाकर सवाल किए गए। करीब 3.30 बजे पूछताछ खत्म हुई। 3.50 पर दीपिकाएनसीबी के गेस्ट हाउस से निकल गईं।

सारा अली खान: दोपहर 1 बजे एनसीबी ऑफिस पहुचीं। वे शाम पांच बजे बाहर निकलीं।

श्रद्धा कपूर: 11.50 बजे एनसीबी ऑफिस पहुंचीं। उनकी पूछताछ शाम 6 बजे खत्म हुई।

दीपिका तय समय से करीब 10 मिनट पहले पहुंच गई थीं
सूत्रों के मुताबिक दीपिका और रणवीर बीती रात ताज होटल में रुके थे। मीडिया से बचने के लिए दीपिका छोटी गाड़ी लेकर होटल से निकलीं। रणवीर दूसरी कार में कुछ दूर तक दीपिका के साथ आए थे। NCB गेस्ट हाउस और ताज होटल के बीच सिर्फ 100 मीटर का फासला है। दीपिका को NCB ने 10 बजे बुलाया था, लेकिन वे करीब 9.50 पर ही पहुंच गईं।

तीनों एक्ट्रेस के नाम ड्रग्स केस में कैसे आए?

दीपिका पादुकोण : वॉट्सऐप के एक ग्रुप चैट में दीपिका, उनकी मैनेजर करिश्मा और सुशांत की टैलेंट मैनेजर जया साहा के बीच 28 अक्टूबर 2017 को ड्रग्स को लेकर हुई बातचीत सामने आई है। दीपिका ने ‘हैश’ और ‘वीड’ जैसे शब्दों का इस्तेमाल करते हुए करिश्मा से पूछा था कि माल है क्या? सूत्रों के मुताबिक, इस ग्रुप की एडमिन भी दीपिका ही थीं।

सारा अली खान : रिया चक्रवर्ती ने एक इंटरव्यू में खुलासा किया था कि सारा अली खान फिल्म केदारनाथ के समय से सुशांत के करीब थीं और सुशांत की ड्रग्स पार्टी में शामिल हुईं थीं। इसके अलावा सुशांत के पावना स्थित फार्म हाउस में हुई ड्रग्स पार्टी में भी वे शामिल हुईं थीं। वहां के एक नाव वाले ने भी यही बात कही थी। NCB को भी फार्म हाउस से नशीली चीजें मिली हैं।

श्रद्धा कपूर : जया साहा और श्रद्धा के बीच हुए कुछ चैट सामने आए हैं। इसमें श्रद्धा सीबीडी ऑयल की डिमांड कर रही हैं। सूत्रों के मुताबिक ड्रग पैडलर करमजीत ने श्रद्धा को जानने और उनके घर तक कार से ड्रग्स पहुंचाने की बात कबूली है।

रकुलप्रीत ने रिया से ड्रग्स चैट की बात कबूली
NCB ने रकुलप्रीत से शुक्रवार को 4 घंटे तक पूछताछ की थी। सूत्रों के मुताबिक रकुल ने रिया चक्रवर्ती से ड्रग्स के बारे में चैट करने की बात कबूल की है। हालांकि, खुद ड्रग्स लेने की बात से इनकार कर दिया। रकुलप्रीत का कहना है कि वे कोई भी मेडिकल टेस्ट करवाने और किसी के भी सामने बैठाकर पूछताछ के लिए तैयार हैं।

Advertisements
Advertisements

Next Post

डूंगरपुर उपद्रव और हिंसा: दोषियों को तत्काल गिरफ्तार किया जाए - राज्यपाल

Sat Sep 26 , 2020
राज्यपाल ने मुख्यमंत्री से चर्चा की राज्यपाल ने वरिष्ठ अधिकारियों को बुलाया राजभवन राज्यपाल ने प्रमुख सचिव और अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक से ली जानकारी और दिए निर्देश राज्यपाल कलराज मिश्र ने डूंगरपुर में हुए उपद्रव और हिंसा पर मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत से आज शनिवार को दूरभाष पर चर्चा की। राज्यपाल मिश्र ने शनिवार को सायं प्रमुख सचिव गृह अभय कुमार और अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक कानून एवं व्यवस्था सौरभ श्रीवास्तव को राजभवन बुलाया और उन्हें इस श्रीसा पर तत्काल नियंत्रण के लिए निर्देश दिए । राज्यपाल मिश्र ने निर्देश देते हुए कहां कि दोषियों को तत्काल पकड़े, समाज विरोधी तत्वों को गिरफ़्तार करें तथा घटना के पीछे जो भी लोग हैं उन्हें चिन्हित करें। राज्यपाल ने दोनों अधिकारियों से आदिवासी क्षेत्रों में लोगों द्वारा किए गए उपद्रव और हिंसा की जानकारी ली। राज्यपाल ने डूंगरपुर सहित जनजातिय क्षेत्रों में कानून […]

Other Stories

Jagruk Breaking