नही रहे मसाला किंग, एमडीएच के मालिक महाशय गुलाटी का दिल का दौरा पड़ने से हुवा निधन

Advertisements
Advertisements

Advertisements

नई दिल्ली । देश मे मसाला किंग के नाम से मशहूर एमडीएच (MDH) के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी का 98 साल की उम्र में गुरुवार को निधन हो गया । धर्मपाल गुलाटी ने दिल्ली के माता चंदन देवी हॉस्पिटल में 3 दिसंबर को सुबह 5:38 बजे आखिरी सांस ली । सूत्रों से मिली जानकारी में सामने आया है कि वह पहले Corona से भी संक्रमित हुए थे । हालांकि वह उससे ठीक हो चुके थे । गुरुवार सुबह उन्हें दिल का दौरा पड़ा, जिसके बाद उनका निधन हो गया ।

पहले चलाते थे तांगा
महाशय धर्मपाल गुलाटी का जन्म 27 मार्च 1923 में पाकिस्तान के सियालकोट में हुआ था और यहीं से उनके व्यवसाय की नीव पड़ी थी । कंपनी की शुरुआत एक छोटी सी दुकान से हुई, जिसे उनके पिता ने विभाजन से पहले शुरू किया था । 1947 में देश के विभाजन के समय उनका परिवार दिल्ली आ गया था । दिल्ली पहुंचने के बाद उन्होंने एक तांगा खरीदा, जिसे वह कनॉट प्लेस और करोल बाग के बीच चलाते थे ।

मशहूर हो गई सियालकोट की देगी मिर्च
विभाजन के बाद गरीबी ने उन्हें जोर का जकड़ा था और तांगा इस चंगुल से निजात दिलाने के लिए काफी न था । लिहाजा महाशय ने तंग आकर अपना तांगा बेच दिया और 1953 में चांदनी चौक में एक दुकान किराए पर ले ली । इसके बाद उन्होंने महाशिया दी हट्टी (MDH) नाम की दुकान खोली और मसालों का व्यापार शुरू किया । जैसे-जैसे लोगों को पता चला कि सियालकोट की देगी मिर्च वाले अब दिल्ली आ गए हैं, उनका कारोबार फैलता चला गया, इसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नही देखा ।

केजरीवाल और मनीष सिसोदिया ने जताया शोक
महाशय धर्मपाल गुलाटी के निधन पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर शोक जताया । उन्होंने लिखा, ‘धर्मपाल जी बहुत ही प्रेरणादायक व्यक्तित्व थे । उन्होंने अपना जीवन समाज के लिए समर्पित कर दिया । ईश्वर उसकी आत्मा को आशीर्वाद दें। ‘दिल्ली के उपमुख्यमंत्री ने ट्विटर पर लिखा, ‘भारत के सबसे प्रेरक उद्यमी, एमडीएच मालिक धर्मपाल महाशय का आज सुबह निधन हो गया, उनकी आत्मा को शांति मिले।’

पद्मविभूषण से हो चुके हैं सम्मानित
व्यापार और उद्योग खाद्य प्रसंस्करण के क्षेत्र में बेहतर योगदान देने के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद  ने पिछले साल महाशय धर्मपाल गुलाटी को पद्मविभूषण से सम्मानित किया था ।

कई बार आईं थीं निधन की अफवाह
मसाला किंग के नाम से पहचान बनाने वाले 98 साल के धर्मपाल के निधन की खबर जब आई तो सहसा किसी को भरोसा नहीं हुआ । दरअसल महाशय दी हट्टी वह शख्सियत हैं जो कई बार निधन की फेक न्यूज के शिकार हुए हैं । 7 अक्टूबर 2018 को वह सुर्खियों में आए थे जब उनके निधन की अफवाह उड़ी थी । तब उन्होंने वीडियो जारी करके कहा था कि वह पूरी तरह स्वस्थ हैं । इसके पहले और बाद में भी उनके निधन की अफवाह आती रही थी ।

Advertisements
Advertisements

Next Post

बीकानेर : डीएसटी व नयाशहर पुलिस का पंजाब के तस्कर पर मोर्निंग शॉट, पूगल फांटा पर तस्कर को डोडा पोस्त सहित धर दबोचा

Thu Dec 3 , 2020
। बीकानेर@जागरूक जनता । जिले में चलाए जा रहे अवैध मादक पदार्थों की धरपकड़ अभियान के तहत डीएसटी ने आज सुबह-सुबह ही पंजाब के एक तस्कर पर शॉट लगाया है, जिसमे डीएसटी प्रभारी डीवाईएसपी ईश्वर सिंह ने अपने खुफिया तंत्र से मिले इनपुट पर नयाशहर थाना पुलिस के सहयोग से गजनेर रोड़ पर पुगल फांटा के पास अवैध डोडा-पोस्त ले जा रहे  आरोपी पंजाब के तस्कर को दबोच लिया, वंही आरोपी तस्कर के कब्जे से पुलिस टीम ने 18 किलो अवैध डोडा-पोस्त को जब्त किया है। पकड़े गए तस्कर की पहचान राजकुमार उर्फ राजु पुत्र गुरुदेवसिंह उम्र 52 साल जाति धाणक निवासी सगुवाणा बस्ती गली न.1 ,भठिण्डा पंजाब के रूप में हुई है । डीएसटी के डीवाईएसपी ईश्वर सिंह ने बताया आरोपी पंजाब के तस्कर से पुलिस कड़ी पूछताछ कर रही है, की आरोपी द्वारा इतनी मात्रा में अवैध डोडा-पोस्त […]

Other Stories

Jagruk Breaking