बीकानेर : मेडिकल दुकान में प्रतिबंधित नशीली गोलियां बेच रहे थे, डीएसटी को लगी भनक,दो दुकानों पर मारा छापा, हजारों गोलियां जब्त

Advertisements
Advertisements

Advertisements

बीकानेर@जागरूक जनता । बीकानेर जिला स्पेशल पुलिस सेल की आक्रामक कार्यवाही से काले धंधे में लिप्त बदमाशों के होश उड़े हुवे है । इसी क्रम में जिले में चल रहे अवैध मादक पदार्थों की धरपकड़ अभियान के तहत बुधवार को डीएसटी ने मुखबिर की सूचना पर औषधि नियंत्रण अधिकारियों की टीम के साथ दो मेडिकल दुकानों पर छापेमारी कर हजारों अवैध नशीली गोलियों को जब्त किया है ।

जिला पुलिस अधीक्षक द्वारा गठित व निकट सुपरविजन में कार्य कर रही डीएसटी के प्रभारी ईश्वर सिंह ने बताया बुधवार को डीएसटी को अपने खुफिया तंत्र से सूचना मिली कि जिला मुख्यालय स्थित दुकानों में प्रतिबंधित मेडिकेटेड नशे का गोरखधंधा चल रहा है, तो इस पर डीएसटी ने जाँच पड़ताल शुरू कर इस बारे में पुख्ता जानकारी इकट्ठा की, पड़ताल तस्दीक में खबर की पुष्टि हो गई । जिस पर DST  की आसूचना व सहयोग से औषधि नियंत्रण अधिकारी जितेन्द्र बोथरा ने कार्यवाही करते हुए तीर्थम चौराहे स्थित उपचार मेडिसीन स्टोर पर कार्यवाही करते हुए अवैध रूप से बेच रहे प्रमोद पुत्र राजेन्द्र प्रसाद जाति ब्राह्मण उम्र 59 साल निवासी हेड पोस्ट ऑफिस के पीछे बीकानेर के कब्जे से 11 हजार 879 मेडीकेटेट नशे की गोलियों को सीज किया गया व हेड पोस्ट ऑफिस के पास विनय मेडीकोज पर दुसरी कार्यवाही करते हुए अवैध रूप से बेच रहे निर्मल कुमार पुत्र लालचन्द जाति अग्रवाल उम्र 62 साल निवासी जय नारायण व्यास कॉलोनी बीकानेर के कब्जे से 5 हजार 936 मेडीकेटेड नशे की गोलियों को सीज किया गया ।

उल्लेखनीय है, जिला पुलिस अधीक्षक प्रहलाद सिंह कृष्णियाँ द्वारा गठित व डायरेक्ट सुपरविजन में कार्य कर रही जिला पुलिस स्पेशल टीम (DST) के प्रभारी ईश्वर सिंह के निर्देशन में टीम सदस्यों जय कुमार उनि. धारा सिंह कानि , बिट्टू कुमार,मुकेश कुमार,श्रीराम, पुनम डीआर आदि द्वारा इस कार्यवाही को अंजाम दिया गया ।

Advertisements
Advertisements

Next Post

NGT ने देशभर में पटाखों की बिक्री और इस्तेमाल पर लगाया प्रतिबंध, क्रिसमस और नए साल पर 1 घंटे की दी छूट

Thu Dec 3 , 2020
नई दिल्ली । राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) ने दिल्ली-एनसीआर सहित देश के सभी शहरों और कस्बों में ‘खराब’ होती वायु गुणवत्ता के मद्देनजर कोविड-19 महामारी के दौरान सभी प्रकार के पटाखों की बिक्री और इस्तेमाल पर प्रतिबंध को बढ़ा दिया है। वही, क्रिसमस और नए साल पर सिर्फ उन शहरों में 1 घंटे की तक ग्रीन पटाखे फोड़ने की छूट दी है, जहां हवा की गुणवत्ता मोडरेट है। इसके साथ ही एनजीटी ने सभी जिलों में हवा की गुणवत्ता का पता लगाने के लिए यंत्र लगाने का आदेश दिया है। एनजीटी ने अपने निर्देश में कहा कि जिलाधिकारी यह सुनिश्चित करेंगे कि पटाखों की बिक्री नहीं हो और उल्लंघन करने वालों से जुर्माना वसूला जाए। वहीं, प्रदूषण का शिकार कोई भी व्यक्ति, समाधान के अन्य उपायों के अलावा मुआवजे के लिए जिलाधिकारी से संपर्क कर सकता है। एनजीटी के अध्यक्ष […]

Other Stories

Jagruk Breaking