बीकानेर दौरे पर आए केंद्रीय मंत्री चौधरी भाजपा की किसान चौपाल में बोले-कृषि बिल किसानों के हक में, कुछ राजनीतिक पार्टियां कर रही भर्मित..

Advertisements
Advertisements

बीकानेर@जागरूक जनता । केंद्र सरकार द्वारा बनाए गए नए कृषि सुधार बिल के विभिन्न पहलुओं पर किसानों को जानकारी देने के लिए बीकानेर भाजपा द्वारा वार्ड नंबर 23 करमीसर में चौपाल पर चर्चा कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमे आसपास के सैकड़ों ग्रामीण किसानों को नए कृषि सुधार कानून में के बारे में अवगत कराया गया मंच से सभा को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि नया कृषि कानून पूर्णतया किसानों के हक में है कुछ वामपंथी और कांग्रेसी कार्यकर्ता किसानों को भ्रमित कर केवल विरोध करने के उद्देश्य से विरोध कर रहे हैं जबकि कांग्रेस अपने घोषणा पत्र में इस कानून को बनाने की बात कर चुकी है ।

Advertisements

केंद्रीय मंत्री चौधरी ने बताया कि पहले जहां किसान केवल अपने क्षेत्र की मंडी में अनाज बेचने को मजबूर था । आज पूरा भारत किसान की मंडी बन गई है । जहां किसान को अपनी फसल का उचित मूल्य मिले वह वहां अपनी फसल को बेचने के लिए स्वतंत्र है । कांटेक्ट फार्मिंग के बारे में बताते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग पूर्णतया किसानों के हित में है । किसान का फैसला 3 दिन के अंतरगत एसडीएम करेगा ताकि तुरंत किसान को लाभ और न्याय मिल सके यदि कोई किसान कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग करता है तो जिस रेट पर फसल देना तय हुआ है कंपनी को उसी रेट पर फसल खरीदना अनिवार्य होगा । चाहे बाजार में उस फसल की रेट कम हो जाए अगर रेट बहुत ज्यादा हो जाती है तो किसान उस फसल को मंडी में बेचने के लिए स्वतंत्र रहेगा जिसके लिए कांटेक्ट वाली कंपनी किसान को मजबूर नहीं कर सकती ।

अगर कोई कंपनी किसान के खेत में स्थाई आवास या संसाधन लगाती है तो वह या तो स्वयं उतार के ले जाए और अगर खेत में छोड़कर जाता है उस पर पूर्णतया हक किसान का होगा उसको कोई चार्ज देना नहीं पड़ेगा , साथ ही कृषि मंत्री ने कहा कि किसान बड़ी संख्या में मिलकर एक समूह बनाए जिसके लिए जो धनराशि किसान देंगे उतनी ही धनराशि केंद्र सरकार को देगी और फैक्ट्री यानी कोई स्थाई संस्था बनाकर किसान अपनी फसल का उचित लाभ ले सकते हैं । किसान ग्रुप बनाकर किसान उत्पादक भी बन सकते हैं । फैक्ट्री भी लगा सकते हैं उसके लिए भी सरकार विभिन्न तरह के अनुदान किसानों को देगी केंद्र सरकार किसान हितैषी सरकार है ।

कार्यक्रम की शुरुआत में भारतीय जनता पार्टी शहर जिला अध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह ने कार्यक्रम की प्रस्तावना रखी और कार्यक्रम के अंत में भाजपा देहात जिलाध्यक्ष ताराचंद सारस्वत ने सभी आगंतुकों का आभार व्यक्त किया सभा को मेयर सुशीला कंवर , डॉ सत्यप्रकाश आचार्य , मोहन पुनिया आदि ने संबोधित किया मंच पर केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी के साथ भाजपा बीकानेर शहर अध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह देहात अध्यक्ष ताराचंद सारस्वत भाजपा पूर्व जिलाध्यक्ष डॉक्टर सत्यप्रकाश आचार्य महापौर सुशीला कंवर राजपुरोहित पूर्व यूआईटी चेयरमैन महावीर रांका महामंत्री नरेश नायक देहात महामंत्री कुंभाराम सिद्ध , जिला उपाध्यक्ष एडवोकेट अशोक प्रजापत , गोकुल जोशी , जिला मंत्री अरुण जैन , मनीष आचार्य , कौशल शर्मा इंदिरा व्यास मंडल अध्यक्ष नरसिंह सेवग , चंद्र प्रकाश गहलोत , विक्रम सिंह राजपुरोहित , देहात उपाध्यक्ष शिव प्रजापत , मोहन पूनिया , क्रम आयोजक वार्ड नंबर 23 के पार्षद शांति देवी चौधरी , धूड़ाराम डेलू , पार्षद सुधा आचार्य , पूर्व पार्षद नरेश जोशी , सरला पडियार सहित शहर और देहात के विभिन्न कार्यकर्ता और बीकानेर के सैकड़ों किसान कार्यक्रम उपस्थित रहे ।

Advertisements
Advertisements

Next Post

बीकानेर : श्रम विभाग की बेरुखी की इंतहा की सजा भुगत रहे सैकड़ों श्रमिक मजदूर, मेहता साहब..आपकी मदद की दरकरार इन मजदूरों और श्रमिको को

Thu Dec 17 , 2020
। -नारायण उपाध्याय बीकानेर@जागरूक जनता । जंहा एक और राज्य सरकार लाखो रूपये की मदद देकर मजदुर और श्रमिक के लिए कल्याणकारी योजनाए चला रही है,लेकिन इन योजनाओ के क्रियान्वन स्तर पर अफसरों की ढिलाई साफ़ देखने को मिल रही हें । राज्य सरकार द्वारा चलाई गई शुभशक्ति योजना इस योजना में राज्य सरकार द्वारा कन्या के विवाह में उसके परिवार को 55,000/- रुपए सहायता राशि राज्य सरकार द्वारा दी जाती हे, इस योजना में कई सैकड़ों श्रमिक मजदूरो ने फॉर्म भरवाए लेकिन राज्य सरकार द्वारा चलाई इन योजनाओ का लाभ कर्मचारियों और अफसरों के ढिलाई के कारण इसका लाभ किसी श्रमिक को नही मिला । श्रम विभाग द्वारा 2015-16  में जो आवेदन लिए गए उनका निस्तारण आज तक नही हुआ इस आवेदन के लिए श्रम विभाग द्वारा कई तरह के शुल्क लिए गये लेकिन मजदुर श्रमिक को शुल्क देने […]

Other Stories

Jagruk Breaking